Bach Baras 2021 गोवत्स द्वादशी पूजा विधि, बछ बारस उद्यापन विधि - पूजन सामग्री, बछ बारस की कथा, भाद्रपद महीने के कृष्ण पक्ष की द्वादशी महत्व
Culture Dharmik Festivals

Bach Baras 2021: पुत्र की लंबी आयु की कामना का पर्व हैं बछ बारस; जानिए गोवत्स द्वादशी पूजा व उद्यापन विधि, पूजन सामग्री, कथा और महत्व

Bach Baras 2021: बछ बारस का पर्व जन्माष्टमी के चार दिन पश्चात भाद्रपद महीने के कृष्ण पक्ष की द्वादशी तिथि के दिन मनाया जाता है। इस दिन गाय और उसके बछड़े की पूजा की जाती है। बछ बारस को गौवत्स द्वादशी, वत्स द्वादशी और बच्छ दुआ भी कहते हैं। यह पर्व को मनाने का उद्देश्य गाय व बछड़े (गाय के छोटे बच्चे) का महत्त्व […]

Ub Chhath 2021 date, ऊब छठ (ललही छठ, बलदेव छठ) व्रत नियम, हल षष्ठी पूजन सामग्री, चाँद छठ कथा, चन्दन षष्टि, ऊब छठ व्रतकथा, ऊब छठ व्रत उद्यापन विधि
Culture Dharmik Festivals

Ub Chhath 2021: चंद्रोदय तक खड़ी रहेंगी व्रती, जानिए ऊब छठ व्रत नियम, पूजा विधि, कथा और उद्यापन विधि

Ub Chhath 2021: भाद्र पद महीने की कृष्ण पक्ष की छठ (षष्टी तिथि) को ऊब छठ पर्व मनाया जाता है। ऊब छठ का व्रत विवाहित स्त्रियां अपने सुहाग की लंबी आयु के लिए तथा कुंआरी लड़कियां अच्छे पति की कामना से करती है। सूर्यास्त के बाद से लेकर चन्द्रमा के उदय होने तक खड़े रहकर उपासना के […]

Kajari Teej 2021 date, सातुड़ी (बड़ी) तीज पूजा विधि, कजरी तीज व्रत कथा, शुभ मुहूर्त और महत्व, चंद्रमा को अर्घ्य देने की विधि, Teej Rituals
Culture Dharmik Festivals

Kajari Teej 2021: क्‍यों रखते हैं कजरी तीज का व्रत? जानिए सातुड़ी (बड़ी) तीज पूजा विधि, व्रत कथा, शुभ मुहूर्त और महत्व

Kajari Teej 2021: तीज पर्व भगवान महेश- माता पार्वती के प्रेम के प्रतिक स्वरुप, आस्था और उल्लास के साथ मनाया जाता है। भाद्रपद (भादो) महीने की कृष्ण पक्ष तृतीया को मनाई जाने वाली कजरी तीज सुहागिन महिलाओं के लिए बहुत ही महत्वूपर्ण मानी गयी है। इस दिन महिलाएं निर्जला व्रत रखती हैं और माता पार्वती की पूरे विधि-विधान […]

Mahesh Navami 2021 date, माहेश्वरी समाज के उत्पत्ति दिवस का पर्व Mahesh Navmi, महेश नवमी पूजा विधि, महत्व, एवं माहेश्वरी समाज की उत्पत्ति कथा
Culture Dharmik Festivals

Mahesh Navami 2021: माहेश्वरी समाज के उत्पत्ति दिवस का पर्व; जानिए महेश नवमी पूजा विधि, महत्व, एवं माहेश्वरी समाज की उत्पत्ति कथा

Mahesh Navami 2021: माहेश्वरी समाज की उत्पत्ति का पर्व ‘महेश नवमी’ हर साल ज्येष्ठ माह के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को मनाया जाता है। महेश नवमी ‘माहेश्वरी धर्म‘ में विश्वास करने वाले माहेश्वरी लोगों का प्रमुख पर्व है। मान्यता के अनुसार माहेश्वरी समाज की उत्पत्ति भगवान महेश के वरदान स्वरूप मानी गई है। माहेश्वरी वंशोत्पत्ति पर्व मुख्य रूप […]

Hanuman Janmotsav 2021 date, हनुमानजी के नाम, हनुमान जन्मोत्सव पूजन विधि, शुभ मुहूर्त, कैसे करे हनुमान जी को प्रसन्न?, हनुमान जी के मंत्र, Hanuman Jayanti 2021, Lord Hanuman B'day
Dharmik Festivals

Hanuman Janmotsav 2021: जानिए कलयुग में सभी संकट दूर करने वाले हनुमानजी के चमत्कारी नाम व मंत्र, हनुमान जन्मोत्सव पूजन विधि, शुभ मुहूर्त

Hanuman Janmotsav 2021: हिन्दू पंचांग के अनुसार, चैत्र महीने की पूर्णिमा तिथि को अंजनी नंदन रामभक्त हनुमान जी का जन्मोत्सव (प्राकट्योत्सव) मनाया जाता है। इस वर्ष हनुमान जन्मोत्सव का महापर्व 27 अप्रैल 2021 दिन मंगलवार को मनाया जाएगा। हनुमान जन्मोत्सव के दिन भक्त विधि-विधान के साथ हनुमान जी की पूजा करते हैं। ऐसी मान्यता है कि […]

Ram Navami 2021, श्री राम जन्मोत्सव का पर्व; जानिए श्रीराम पूजन विधि, राम नवमी 2021 शुभ मुहूर्त, रामनवमी महत्‍व, राम नाम की महिमा, चैत्र माह के शुक्ल नवमी, क्यों मनाते है राम नवमी?
Culture Dharamik Dharmik Festivals

Ram Navami 2021: श्री राम जन्मोत्सव का पर्व; जानिए श्रीराम पूजन विधि, शुभ मुहूर्त, महत्‍व व राम नाम की महिमा

Ram Navami 2021: हिन्दू धर्म में चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि के दिन भगवान श्रीराम का जन्मोत्सव बड़ी धूमधाम के साथ मनाया जाता है। नवरात्रि मे राम नवमी के पावन पर्व पर भगवान श्रीराम के साथ मां दुर्गा की विशेष पूजा-अर्चना करने का विधान है। इस साल Ram Navami 2021, 21 अप्रैल दिन बुधवार को […]

Gangaur Puja 2021, सौभाग्य के लिए किया जाता है गणगौर पूजन, जानिए गौरी तीज मान्यता, शुभ मुहूर्त, गणगौर पूजा विधि, गणगौर व्रत कथा, Gangore Puja
Culture Dharmik Festivals

Gangaur Puja 2021: सौभाग्य के लिए किया जाता है गणगौर पूजन, जानिए गौरी तीज मान्यता, शुभ मुहूर्त, गणगौर पूजा विधि और कथा

Gangaur Puja 2021: हिन्दू धर्म में चैत्र महीने की शुक्ल पक्ष की तृतीया का दिन गणगौर पर्व के रूप में मनाया जाता है। गणगौर लोकपर्व होने के साथ-साथ रंगबिरंगी संस्कृति का अनूठा उत्सव है। गणगौर पूजा चैत्र मास के कृष्ण पक्ष प्रतिपदा तिथि से आरम्भ की जाती है। इसमें कन्याएं और विवाहित स्त्रियां मिट्टी के शिव […]

Sheetala Ashtami 2021 date, क्यों मनाया जाता है शीतला अष्टमी का पर्व? शीतला माता के रूप का अर्थ, शीतला अष्टमी पूजन विधि, बास्योड़ा का महत्व, kab hain sheetla ashtami
Culture Dharmik Festivals

Sheetala Ashtami 2021/Basoda: क्यों मनाया जाता है शीतला अष्टमी का पर्व? जानिए शीतला माता के रूप का अर्थ, शीतला अष्टमी पूजन विधि व बास्योड़ा का महत्व

Sheetala Ashtami 2021: शीतला अष्टमी का पर्व चैत्र मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी को मनाया जाता हैं। इस साल Sheetala Ashtami 2021, 4 अप्रैल रविवार के दिन हैं। कुछ लोग शीतला सप्तमी (3 अप्रैल) भी पूजते हैं। शीतला अष्टमी पर शीतला माता का पूजन किया जाता है और बसौड़ा का प्रसाद लगाया जाता है। ऐसी मान्यता […]

Holika Dahan 2021, होलिका दहन में अर्पित करें ये चीजें, होलिका दहन पूजा विधि, होलिका दहन शुभ मुहूर्त और महत्व, फाल्गुन पूर्णिमा,रंगों की होली
Culture Dharmik Festivals

Holika Dahan 2021: होलिका दहन में अर्पित करें ये चीजें, होगा जीवन सुखमय, घर में धन धान्य के भंडार; जानिए होलिका दहन पूजा विधि, शुभ मुहूर्त और महत्व

Holika Dahan 2021: होली (Holi) का त्योहार फाल्गुन माह की पूर्णिमा को मनाया जाता है। होली सिर्फ रंगों का ही नहीं एकता, सद्भावना और प्रेम का प्रतीक भी माना जाता है। होली में रंगों के साथ-साथ होलिका दहन (Holika Dahan) की पूजा का भी खास महत्व है। हिंदू पंचांग के अनुसार, इस साल बुराई पर […]

Haridwar Kumbh 2021, हरिद्वार महाकुंभ स्नान के लिए कोरोना नई गाइडलाइन, कुंभ स्नान के नियम, Kumbh 2021 शाही स्नान तिथियां, गंगा स्नान का महत्व
Culture Dharmik Events Festivals News

Haridwar Kumbh 2021: क्या आप भी जा रहे हैं हरिद्वार महाकुंभ स्नान के लिए? तो पहले जान लें नई गाइडलाइन और कुंभ स्नान के नियम

Haridwar Kumbh 2021: भारतीय सनातन संस्कृति में कुंभ का बहुत महत्व है, ये विश्वास, आस्था, सौहार्द और संस्कृतियों के मिलन का सबसे बड़ा पर्व है। ये दुनिया का सबसे बड़ा धार्मिक कार्यक्रम है। कुंभ मेला हर तीन साल में आयोजित किया जाता है, और चार अलग-अलग स्थानों – हरिद्वार (गंगा), प्रयागराज (यमुना, गंगा और सरस्वती का […]