Shravan Putrada Ekadashi 2019: श्रावण पुत्रदा एकादशी व्रत कथा, पूजा विधि और महत्व। श्रावण मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी को पुत्रदा एकादशी कहा जाता है. मान्यता है कि yeh एकादशी व्रत संतान कामना को पूरा करने तथा संतान की समस्याओं के निवारण के लिए किया jata है. पुत्रदा एकाशदी का व्रत 11 अगस्त 2019 को रखा जाएगा
Culture Dharmik

Shravan Putrada Ekadashi 2019: जानिए श्रावण पुत्रदा एकादशी व्रत कथा, पूजा विधि और महत्व

Shravan Putrada Ekadashi 2019: व्रतों में सर्वाधिक महत्वपूर्ण व्रत एकादशी का होता है। एकादशी का नियमित व्रत रखने से धन और आरोग्य की प्राप्ति होती है। श्रावण महीने के शुक्ल पक्ष की एकादशी को पुत्रदा एकादशी कहा जाता है। मान्यता है कि यह एकादशी व्रत, संतान कामना को पूरा करने तथा संतान की समस्याओं के […]

Falgun 2019: हिंदू पंचाग का अंतिम माह फाल्गुन आरंभ, जानिए प्रमुख त्योहार और Phalguna 2019 महत्व
Culture Festivals

Falgun 2019: हिंदू पंचाग का अंतिम माह फाल्गुन, जानिए प्रमुख त्योहार और महत्व

Falgun 2019 बुधवार 20 फ़रवरी से प्रारम्भ हो गया है। फाल्गुन महीना, हिंदू पंचांग का बारहवां और आखिरी महीना होता है और उत्सव के उल्लास से भरा हुआ रहता है। यह महीना भगवान शिव, भगवान श्री कृष्ण और चंद्रदेव के उपासना का हैं। फाल्गुन महीने में महाशिवरात्रि और होली जैसे महत्वपूर्ण और बड़े त्योहार मनाए जाते हैं। फाल्गुन […]

Putrada Ekadashi 2019: पौष पुत्रदा एकादशी व्रत कथा, पूजा-विधि और महत्व Pausha Putrada Ekadashi 2019 vrat katha
Culture Festivals

Putrada Ekadashi 2019: पौष पुत्रदा एकादशी व्रत कथा, पूजा-विधि और महत्व

Putrada Ekadashi 2019: पौष मास में शुक्ल पक्ष एकादशी को पुत्रदा एकादशी का व्रत रखा जाता है। माना जाता है कि इस चर और अचर संसार में इस एकादशी के व्रत के समान दूसरा कोई व्रत नहीं है। ऐसी मान्यता है कि जिन्हें संतान होने में बाधाएं आती हैं उन्हें पुत्रदा एकादशी का व्रत जरूर रखना चाहिए। […]

Gopashtami 2018: गोपाष्‍टमी पूजन विधि, कथा व महत्‍व Gopashtami tithi, pujan vidhi, muhurat, importance of Gopashtami
Culture Festivals

Gopashtami 2018: गोपाष्‍टमी पूजन विधि, पौराणिक कथा व महत्‍व

Gopastami 2018: कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि को गोपाष्टमी के रूप में मनाया जाता है। मान्यता है कि इसी दिन से भगवान श्री कृष्ण और बलराम ने गौ-चारण की लीला शुरू की थी। इस साल (Gopashtami 2018) गौ अष्टमी, 16 नवंबर को मनाया जाएगा। हिन्दू मान्यताओं में गोपाष्टमी का बेहद महत्व है। विशेषकर […]