Bachh Baaras 2019: बछ बारस महत्व, पूजा विधि, पूजन की सामग्री और कथा। बछ बारस का पर्व भाद्रपद महीने के कृष्ण पक्ष की द्वादशी तिथि के दिन मनाया जाता है| इस दिन गाय और uske बछड़े की पूजा की जाती है। बछ बारस को गौवत्स द्वादशी और बच्छ दुआ भी कहते हैं। इस saal बछबारस 27 अगस्त 2019 मंगलवार को मनाया जाएगा।
Culture Dharmik Festivals

Bachh Baaras 2019: बछ बारस महत्व, पूजा विधि, पूजन की सामग्री और कथा

Bachh Baaras 2019: बछ बारस का पर्व जन्माष्टमी के चार दिन पश्चात भाद्रपद महीने के कृष्ण पक्ष की द्वादशी तिथि के दिन मनाया जाता है| इस दिन गाय और उसके बछड़े की पूजा की जाती है। बछ बारस  को गौवत्स द्वादशी, वत्स द्वादशी और बच्छ दुआ भी कहते हैं। यह पर्व को मनाने का उद्देश्य गाय व बछड़े (गाय के छोटे बच्चे) का महत्त्व समझाना है। […]

Bachh Baaras 2019: बछ बारस महत्व, पूजा विधि, पूजन की सामग्री और कथा। बछ बारस का पर्व भाद्रपद महीने के कृष्ण पक्ष की द्वादशी तिथि के दिन मनाया जाता है| इस दिन गाय और uske बछड़े की पूजा की जाती है। बछ बारस को गौवत्स द्वादशी और बच्छ दुआ भी कहते हैं। इस saal बछबारस 27 अगस्त 2019 मंगलवार को मनाया जाएगा।
Culture Festivals

Bachh Baras 2018: बछ बारस महत्व, पूजन की सामग्री, पूजा व उद्यापन विधि और कथा

भारतीय धार्मिक शास्त्रों के अनुसार बछ बारस प्रतिवर्ष जन्माष्टमी के चार दिन पश्चात भाद्रपद महीने के कृष्ण पक्ष की द्वादशी के दिन मनाया जाता है| इस दिन गाय और बछड़े की पूजा की जाती है। बछ बारस Bachh Baras को गौवत्स द्वादशी और बच्छ दुआ bach dua भी कहते हैं। बछ यानि बछड़ा, गाय के छोटे बच्चे को कहते है, गोवत्स का मतलब […]